Region

हमीरपुर: करोड़ों के निर्माण कार्यों में गड़बड़ी पर दो अभियंता फंसे

हमीरपुर: करोड़ों के निर्माण कार्यों में गड़बड़ी पर दो अभियंता फंसे 
 
– निर्माण कार्यों के टेंडर निरस्त करने और ठेकेदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के आदेश
– एसडीएम के नेतृत्व में तीन सदस्यीय जांच टीम की रिपोर्ट के बाद जिलाधिकारी ने की कार्रवाई
हमीरपुर, 29 जनवरी । जिले में नगर पालिका परिषद के करोड़ों की लागत से कराये जा रहे 47 निर्माण कार्यों की जांच में अनियमिततायें पाये जाने पर बुधवार को जिलाधिकारी ने ठेकेदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने और टेंडर निरस्त करने के आदेश दिये हैं। साथ ही अवर अभियंता को दो प्रतिकूल प्रविष्टि तथा सहायक अभियंता को लिखित चेतावनी दी गयी है। इस कार्रवाई से पालिका में हड़कंप मचा हुआ है।
जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने बताया कि नगर पालिका परिषद मौदहा में 14 वें वित्त आयोग की धनराशि से निर्माण कार्य कराये जा रहे हैं। लगातार निर्माण कार्यों में अनियमितताओं की शिकायतों का संज्ञान लेकर तीन सदस्यीय जांच टीम गठित कर जांच करायी गयी। जांच टीम में लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड के सहायक अभियंता, ग्रामीण अभियंत्र सेवा विभाग के अधिशाषी अभियंता तथा एसडीएम मौदहा नामित किये गये थे। एसडीएम के नेतृत्व में नगर पालिका परिषद मौदहा के कराये जा रहे 47 निर्माण कार्यों की टीम ने जांच की जिसमें 11 निर्माण कार्यों में भारी अनियमिततायें पायी गयी है। 17 निर्माण कार्यों में केवल मिट्टी खुदाई का कार्य पाया गया जो वैज्ञानिक ढंग से नहीं कराया गया है।
जिलाधिकारी ने बताया कि 13 निर्माण कार्य शुरू नहीं कराये गये जबकि 6 निर्माण कार्यों की स्थिति संतोषजनक पायी गयी है। करोड़ों की लागत से कराये जा रहे निर्माण की जांच रिपोर्ट को लेकर नगर पालिका से सम्बद्ध अवर अभियंता लोक निर्माण विभाग को प्रतिकूल प्रविष्टि दी गयी तथा सहायक अभियंता डी.आर.डी.ए. को चेतावनी नोटिस जारी की गयी है। इंटरलांकिंग के निर्माण कार्य मानक के अनुरूप न कराये जाने पर समस्त टेंडर निरस्त करते हुये दोबारा टेंडर आमंत्रित करने के आदेश दिये गये है साथ ही सम्बन्धित ठेकेदारों के खिलाफ विधिक कार्यवाही करते हुये उन्हें काली सूची में डालने के आदेश भी दिये गये है। जिलाधिकारी ने बताया कि निर्माण कार्यों में प्रयुक्त सामग्री की प्रयोगशाला से जांच कराने और जांच के बाद ही भुगतान की कार्यवाही होगी।
Print Friendly, PDF & Email
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close